दिल्‍ली मेट्रो में 20 साल से यहीं हैं एनाउंसर, जानें कौन हैं यह

दिल्‍ली मेट्रो आज दिल्लीवालों के लिए लाइफ लाइन बन गई है. दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) को इस साल शुरू हुए 20 साल हो गए हैं और इन 20 सालों में आज भी एनाउंसर नहीं बदले हैं।

दिल्‍ली मेट्रो की अनाउंसमेंट के पीछे हैं इनकी आवाज़

दिल्ली मेट्रो में इन 20 सालों के दौरान कई तरह के बदलाव देखे गए हैं, मगर एनाउंसर नहीं बदले गए हैं, दिल्ली मेट्रो के दोनों एनाउंसर का नाम शम्मी नारंग (Shammi Narang) और रिनी साइमन खन्ना (Rini Simon Khanna) हैं, दिल्‍ली मेट्रो की अनाउंसमेंट के पीछे इनकी ही आवाज़ हैं।

अंग्रेजी-हिंदी में मेट्रो में यह देते हैं जरूरी सूचनाओं की जानकारी

अंग्रेजी में जरूरी सूचनाओं की जानकारी देने के लिए रिनी साइमन खन्ना और हिंदी में जरूरी सूचनाओं की जानकारी देने के लिए शम्मी नारंग की आवाज़ का उपयोग होता हैं।

इन दोनों एंकरों की कहानी काफ़ी खास है, तो चलिए इनके बारे में जानते हैं:-

रिनी सिमोन खन्ना Rini Simon Khanna

रिनी सिमोन खन्ना दिल्ली मेट्रो में साफ उच्चारण के साथ अंग्रेजी में जरूरी सूचनाओं की जानकारी देती हैं (‘Doors will open on the right’)

रिनी के पिता भारतीय वायु सेना के एक अधिकारी थे, इसलिए उन्हें देश के 9 अलग-अलग स्कूलों में पढ़ाई करनी पड़ी. रिनी ने अपने स्कूली दिनों से ही एंकरिंग की हैं। उन्होंने दूरदर्शन के साथ 1985-2001 में न्यूज रीडर की तरह काम किया था, उसके बाद उन्होंने कई जगह वॉइस ओवर आर्टिस्ट और कई इवेंट में एंकर की तरह काम किया.

उनको अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भाषण के लिए गोल्ड मेडल मिला हैं। तत्कालीन सूचना और प्रसारण मंत्री वसंत साठे अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में मौजूद थे और उन्होंने खन्ना से कहा कि उन्हें रेडियो में कदम रखने की जरूरत है, ‘उनके पास एक शानदार आवाज है जिसे दूर-दूर तक सुना जाना चाहिए.’

शम्मी नारंग Shammi Narang

दिल्ली मेट्रो में यात्रा के दौरान जिस पुरुष की आवाज आपको लगातार हिन्दी भाषा में सुनाई देती है, वो आवाज़ शम्‍मी नारंग की है. (‘दरवाजे दाईं तरफ खुलेंगे’)

शम्मी नारंग IIT दिल्ली से इंजीनियरिंग में पोस्ट ग्रेजुएट हैं. एक विदेशी इंजीनियर ने शम्मी नारंग की आवाज तब सुनी जब वो 19 साल के थे, जिसे सुनकर वह काफी प्रभावित हुआ और उन्होंने शम्मी को ‘Voice of America’ के हिन्दी विभाग में मौका दिया था। इसके बाद शम्मी नारंग दूरदर्शन से जुड़ गए और दूरदर्शन के जाने माने एंकर बन गए.

आखिर कैसे हुआ इन दोनों का सिलेक्शन?

जब मेट्रो का ट्रायल चल रहा था तो उस वक्त DMRC की एक मीटिंग चल रही थी, जहां दिल्ली मेट्रो के चैयरमेन श्रीधरन भी उपस्थित थे।

उसी दौरान चैयरमेन ने शम्मी नारंग और रिनी सिमोन खन्ना की आवाज का जिक्र किया था और तब शम्मी नारंग और रिनी की आवाज का ट्रायल हुआ और सबको उनकी आवाज बहुत पसंद आई। जिसके बाद अनाउंसमेंट करने के लिए दिल्ली, गुड़गांव और नोएडा को उनके हिस्से में दे दिया गया।

एक इंटरव्यू में शम्मी ने कहा कि मेट्रों ने हमारी आवाज को अमर कर दिया है। मतलब जब तक मेट्रो रहेगी तब तक हमारी आवाज भी रहेगी।

Shikha DelhiBreakings टीम के साथ शुरुआती दिनों से हैं. 2018 से शिखा पोर्टल में कार्यरत हैं. दिल्ली - NCR में रहने वाली शिखा रोज़ लोकल और हेल्पफुल खबरें आपके लिए लाती हैं. आप ईमेल hello@delhibreakings.com पर इन्हें कर सकते हैं. Subject में Shikha मेंशन करना ना भूले.