फर्श बाजार इलाके में एसी (एयर कंडीशनर) की गर्म हवा को लेकर दो पड़ोसी आपस में भिड़ गए। इस झगड़े में एक पक्ष के लोगों ने बुजुर्ग धर्मपाल को दूसरी मंजिल से नीचे गली में फेंक दिया। उनकी डॉ. हेडगेवार अस्पताल में मौत हो गई। हमले में धर्मपाल के दो बेटे देव कुमार और बाबूलाल गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपित धर्मेद्र उर्फ धमरू को गिरफ्तार कर लिया है। वह पूर्वी दिल्ली नगर निगम में सफाई कर्मचारी है।

 

पुलिस के अनुसार धर्मपाल परिवार के साथ न्यू संजय अमर कॉलोनी में रहते थे। पेशे से राज मिस्त्री थे। परिवार में पत्नी हीरावती, चार बेटे और दो शादीशुदा बेटियां हैं। इनका 25 गज का दो मंजिला मकान है। इनके घर के ठीक सामने धर्मेद्र परिवार के साथ रहता है।

 

धर्मपाल के बेटे देव कुमार ने बताया कि जिस गली में वे रहते हैं वह संकरी है। तीन साल पहले धर्मेद्र ने अपने घर के भूतल पर मुख्य दरवाजे के पास पास ¨वडो एसी लगवाया था। उसकी गर्म हवा उनके घर में जाती थी। इस वजह से उनके घर में बहुत गर्मी रहती है। पीड़ित परिवार ने कई बार आरोपित से एसी बाहर की साइड से हटाकर अंदर लगवाने के लिए कहा था। एक सप्ताह पहले धर्मपाल के बेटे बाबूलाल ने भी अपने घर में ¨वडो एसी लगवा लिया। इसकी हवा धर्मेद्र के घर में जाने लगी थी। इससे आरोपित गुस्से में आ गया था।

 

घर के बाहर बच्चे ने पानी फेंका तो शुरू हुआ झगड़ा:

मृतक के स्वजनों ने बताया कि एसी की हवा को लेकर दोनों परिवारों में विवाद तो चल ही रहा था। मंगलवार को बाबूलाल के नौ वर्षीय बेटे ने आरोपित के घर के बाहर पानी फेंक दिया। इस पर आरोपित की पत्नी गाली-गलौज करने लगी। जब धर्मपाल और उनके बेटे बाबू ने इसका विरोध किया तो धर्मेद्र का पूरा परिवार मौके पर जमा हो गया। आरोप है कि आरोपित ने फोन करके बाहरी लोगों को बुला लिया और उन पर जानलेवा हमला किया। धर्मपाल जान बचाने के लिए ऊपरी मंजिल पर भागे। आरोपित और उसके साथियों ने मिलकर बुजुर्ग की दोनों टांग पकड़कर नीचे फेंक दिया।

कुछ तो अभी भी कर रहा हूँ आप लोगो के लिये ख़ैर आप email पर लिख भेजिए मुझे lov@gulfhindi.com पर

Leave a comment