देश की राजधानी दिल्ली से नेपाल का सड़क मार्ग के जरिये सफर करने वालों के बड़ी राहत की खबर आई है। इससे उनका समय बचेगा और सफर भी आसान हो गया है। दरअसल, यात्रियों की संख्या बढ़ाने के उद्देश्य से दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) ने दिल्ली से काठमांडू (नेपाल) बस सेवा के समय और मार्ग में डीटीसी ने कुछ परिवर्तन किया है। इसके पीछे प्रबंधन का मत है कि नए मार्ग से आवागमन में यात्रियों का कम से कम छह से सात घंटे का समय बचेगा।

 

 

इस बदलाव के बारे में डीटीसी के उपमुख्य महाप्रबंधक (पीआर) संजय सक्सेना ने बताया कि तीन नवंबर 2014 को शुरू हुई इस सेवा को आधिकारिक तौर पर भारत-नेपाल मैत्री बस सेवा के रूप में जाना जाता है। नए मार्ग के तहत बस का संचालन लखनऊ एक्सप्रेस हाइवे यानी नए सर्वेक्षण मार्ग से किया जाएगा जो लगभग 49 किमी की बचत करेगा।

 

 

इसके चलते यात्रा का समय कम होकर 25-26 घंटे होगा जो वर्तमान में लगभग 32-34 घंटे होता है। उन्होंने बताया कि अब प्रति यात्री 2774 रुपये प्रति ट्रिप किराया होगा। यात्रियों को अधिक सुविधा देने के लिए बस अब पहले मजनू का टीला जाएगी और वहां से यात्रियों को लेकर अंबेडकर टर्मिनल आएगी।

 

 

उन्होंने बताया कि बस सुबह पांच बजे मजनू का टीला पहुंचेगी और वहां से एक घंटे बाद सुबह 6 बजे वापस अंबेडकर टर्मिनल दिल्ली गेट के लिए रवाना होगी। वहीं समय में बदलाव के तहत मौजूदा समय 10 बजे के स्थान पर दिल्ली गेट टर्मिनल से सुबह सात बजे नेपाल के लिए बस प्रस्थान करेगी।

 

उन्होंने बताया कि इससे यात्रियों को चार-पांच घंटे के अतिरिक्त इंतजार का समय भी बचेगा। उन्होंने कहा कि अगर बस सुबह सात बजे टर्मिनल से निकल जाएगी तो समय से ही नेपाल पहुंच जाएगी। उन्होंने बताया कि इस यात्रा के दौरान बस का ठहराव तीन जगह होगा।

कुछ तो अभी भी कर रहा हूँ आप लोगो के लिये ख़ैर आप email पर लिख भेजिए मुझे [email protected] पर

Join the Conversation

1 Comment

Leave a comment