गज़ब हैं मुफ्त में पूरा देश घूमने का यह तरीका

लोग कहते हैं की दुनिया में कुछ भी नामुमकिन नहीं है, आज हम ऐसे ही एक शख्स की बात कर रहे हैं जिसने नामुमकिन को मुमकिन कर दिखाया हैं। इस युवक को देश-दुनिया घूमने का बहुत शौक था लेकिन उसने इस शौक को पूरा करने के लिए पैसे का सहारा नहीं लिया।

मुफ्त में पूरा देश घूम कर आ गया यह युवक

इलाहाबाद का यह युवक बिना पैसे के यानी मुफ्त में पूरा देश घूम कर आ गया था। इस युवक का नाम अंश मिश्रा हैं और उस वक़्त इनकी उम्र 28 साल थी। अंश मिश्रा ने इलाहबाद तकनीकी महाविद्यालय से शिक्षा प्राप्त की हैं।

बिना पैसे के 250 दिनों में घूम डाला पूरा देश

इलाहाबाद के अंश मिश्रा ने 250 दिनों में बिना पैसे के देश के 29 राज्यों और चार केंद्र शासित प्रदेशों का भ्रमण कर लिया था।

अंश मिश्रा ने 3 फरवरी, 2017 को बिना पैसे के अपनी यह यात्रा शुरू की थी। उन्होंने वाहनों से लिफ्ट लेते हुए, चालकों और लोगों के सहयोग से बिना पैसे के सफ़र और भोजन कर अपनी यह यात्रा समाप्त की थी।

बेहद अनोखा मुसाफिर हूं यारों……..

भारत में अपने पूरे सफर के दौरान अंश मिश्रा ने करीब 1800 ट्रक ड्राइवरों से लिफ्ट ली और हर ट्रक डाइवर ने उनका साथ दिया। साथ ही वो साइकिल से लेकर मर्सिडीज तक से यात्रा कर चुके हैं, अंश मिश्रा इस सफर के दौरान रेगिस्तान की रेत से लेकर 7 स्टार होटल तक में रात गुजार चुके हैं। अपने एक्सपीरियंस पर वह एक बुक भी लिखने वाले हैं जिसका नाम है ‘लेट्स रोम’ होगा।

अंश मिश्रा ने यह यात्रा 3 मकसद से शुरू की थी

_पहला लोगों की गलतफहमी दूर करना, जो यह सोचते हैं कि घूमने के लिए ढ़ेर सारे पैसों की जरूरत होती हैं।

_दूसरा, लोगों के दिमाग में भारत के कई क्षेत्रों को लेकर गलतफहमी है की यह इलाके सुरक्षित नहीं है, जैसे मणिपुर और नागालैंड

_तीसरी वजह लोगों की मानसिकता हैं, उन्होंने कहा की हमारे यहां लोगों को उनके काम के हिसाब से इज्जत मिलती है।

उन्होंने कहा की ट्रक ड्राइवर और ट्रांसपोर्ट से जुड़े लोगों को लोग अनपढ़ और बेइज्जती से भरा प्रोफेशन मानते हैं, जबकि इनकी वजह से हमारी इकोनॉमी चल रही है।

 

Shikha DelhiBreakings टीम के साथ शुरुआती दिनों से हैं. 2018 से शिखा पोर्टल में कार्यरत हैं. दिल्ली - NCR में रहने वाली शिखा रोज़ लोकल और हेल्पफुल खबरें आपके लिए लाती हैं. आप ईमेल hello@delhibreakings.com पर इन्हें कर सकते हैं. Subject में Shikha मेंशन करना ना भूले.